मुसाखेड़ी के राजा 

महाराष्ट्र में मुंबई के मूर्तिकारों द्धारा बनायीं जा रही लाल बाग़ के राजा के तर्ज पर मुसाखेड़ी के राजा की १८ फ़ीट ऊँची एक विशाल प्रतिमा ! 

SARVDHARM EKTA DONATE HERE

About Us

About Us

_dsc0156

सर्व धर्म एकता समिति
प्रकृती में ईश्वर प्रत्यक्ष रूप में नहीं प्राप्त होता , परन्तु सद् विचारो से प्रत्यक्ष होता है ! ऐसा ही एक सद् वि चार समाज सेवी श्री राजू प्रजापत जी के मन में तब आया जब वे अपनी ऊर्जावान युवावस्था में समाज एवं राष्ट्र तथा अपने इर्द-गिर्द फैली बुराईंयों और कुरीतियों टकराव एवं संघर्ष को देखते हुए धर्म कार्य का सेवन कर रहे थे ! इसी कड़ी में प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग  “मंमलेश्वर ” ॐ कारेश्वर तीर्थ से लौटते हुए आपके मन  में वही उपरोक्त ईश्वरीय सदृश्य विचार कि जिस तरह में धर्म के लाभों को लेता हु क्या सभी लोग धर्म के वह लाभ ले पाते है !
तभी से प्रारम्भ हुआ निशुल्क तीर्थ यात्राओं का सेवा कार्य !
प्रथम यात्रा हेतु हुई , सन 1999 में , लगभग २००० तीर्थ यात्रियों का पंजीयन कर लेने व सफलता पूर्वक तीर्थों को करा ॐ कारेश्वर यात्रा संपन्न की ! इन परिस्थितियों में आप श्री से कई गणमान्य और वरिष्ठ मित्रो का परामर्श हुआ की एक समिति का गठन कर निर्धन बेटियों का कन्यादान तथा नशामुक्ति एवं सदमार्ग हेतु विभिन्न कथाये एवं प्रवचनों आदि का भी आयोजन किया जाना चाहिये ! अंततः सभी वर्ग एवं धर्मो का उसमे समावेश हो सके ! एवं अंतीम पंक्ति के व्यक्ति को भी जोड़कर लाभान्वित करने हेतु सर्व सम्मती से लगभग १२ वर्षों के सेवा कार्यो तथा सम्मलित प्रयासों  से सर्व धर्म एकता समिति के नाम से यह सेवा समूह पंजीकृत हुआ। सन २०११ में बीज बोया गया ! यह बीज एक विशेष वार्षिक आयोजन गणेश उत्सव के रूप में प्रान्त एवं सम्पूर्ण भारत वर्ष में ख्याति को प्राप्त होता हुआ राष्ट्रहित में कई मंचीय कार्यक्रम एवं नारीसशक्ति करण व महिला सहभागिता को हेतु आप स्वयं ने भाभी माँ श्रीमती तुलसी प्रजापत को आग्रह पूर्वक समिति के समाज सेवी कार्यों में उस समय उतारा गया ! जब महिलाओ के लिए इन समस्त कार्यो में भागीदारी सहज ना थी !
इसी क्रम को पार दर्शिता एवं कर्मठता से निभाते हुए अपने माता पिता , गुरुजनो एवं वरिष्ठों के मार्गदर्शन एवं सहमति से सेवा कार्यो एवं उत्सवो के उपक्रमों को श्री विजय प्रजापत जी ने सन २०१७ से अध्यक्ष पद पर रह कर जिम्मेदारी पूर्वक निभाया !
“मंज़िल नहीं यह पड़ाव हे दौरे कारवां का”….
सभी उन साथियों के इंतज़ार में जो राष्ट्र और समाज के लिए कुछ जज्बा रखते है , समिति अहवान करती है सभी विचारो एवं मित्रो का !

मुसाखेड़ी के राजा

आर्यावर्त राष्ट्र व सत्य सनातन हिंदू धर्म सर्वाधिक त्योहारों,व उत्सवो का जनक एवं पालनहारा है।
इसी परंपरा में गणेश चतुर्थी संपूर्ण भारतवर्ष देश ,विदेशों में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाने वाला पर्व है। मां अहिल्या के पावन नगर इंदौर में इस उत्सव को 10 दिवस तक धूमधाम से मनाया जाता है इसी पावन नगर के एक छोटे से कस्बे मू साखेड़ी में जहां सर्वाधिक आयोजन और उत्सव मनाए जाते हैं सभी गणेशोत्सव के बीच पूरे मध्यप्रदेश ही नही अपितू भारतवर्ष में पिछले 21 वर्षों मे अपनी अलग ही वशिष्ठ पहचान बनाने वाला उत्सव जो सर्वधर्म एकता गणेशोत्सव समिति के तत्वधान में विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ मनाया जाता है। जो की अपने नाम के अनुरूप ही ख्याति को प्राप्त होकर वर्ष भर होने वाले सभी आयोजनों का सिरमौर होने से मुंबई के लाल बाग के राजा और पुणे के दगड़ू सेठ आदि उत्सवों की तर्ज पर मूसाखेड़ी के राजा नाम को प्राप्त होता है यह किवदंती है कि मुसाखेड़ी का गौरव मुसाखेड़ी के राजा का उत्सव देखे बिना इंदौर की गरिमा को जानना अधूरा है।
” तुझे बुलाती तेरी तकदीर आजा
बिगड़ी बना देते हैं मुसाखेड़ी के राजा”

5035

Sarvdharm Ekta Utsav Samiti Update

whatsapp-image-2019-09-02-at-2-45-04-pm

मूसाखेड़ी के राजा के दरबार में गणेश उत्सव की झलकियां इंदौर के अख़बारों में !

[vc_row][vc_column][vc_column_text]गणेश उत्सव । सर्व धर्म एकता समिति ! [/vc_column_text][/vc_column][/vc_row][vc_row][vc_column][vc_gallery interval=”3″ images=”1825,1826,1827,1828,1829,1830,1831,1832,1833″][/vc_column][/vc_row]

whatsapp-image-2019-08-26-at-7-46-12-pm

मूसाखेड़ी के राजा का भूमिपूजन 25-08-2019 पर किया गया

आज सर्व धर्म एकता उत्सव समिति द्रारा मूसाखेड़ी के राजा का भूमिपूजन किया। इस अवसर पर समिति के सदस्य श्री राजू प्रजापत जी, श्री डी.पी.पाठक जी, शंकर गुर्जर जी, मुकेश …

42257210_2163374480600395_6312657006545076224_o

भजन संध्या

रात्रि 9:00 से प्रातः काल 5:00 बजे तक रंगारंग भक्ति गीतों के साथ दूर दूर से आए विशेष कलाकारों के द्वारा नृत्य प्रस्तुति एवं भजन संध्या के साथ रात्रि जागरण …